Chicken Khane Ke Fayde Aur Nuksan

Chicken Khane Ke Fayde बहोत सारे नॉन वेजिटेरियन लोगों को पता होंगे। मगर क्या आप भी जानते है, कि, चिकन खाने के फायदे क्या हैं और चिकन खाने के नुक्सान क्या हैं?

अगर नहीं, तो ये पोस्ट आपके लिए ही है। क्यूंकि आज मैं आपलोगो को, न सिर्फ Chicken Khane Ke Fayde In Hindi बल्कि, उससे होने वाले कई महत्वपूर्ण नुक्सान के बारे में भी बताउंगी। कृपया कर के पूरा पोस्ट पढ़ें, अगर आप चिकन खाने के फायदे और नुकसान को भली भांति जानना चाहते हैं।

Chicken Khane Ke Fayde Aur Nuksan

Chicken Khane Ke Fayde Aur Nuksan

चिकन एक कम वसा वाला, कम कैलोरी वाला पक्षी है जिसमें प्रोटीन की उच्च स्तर होती है, जो इसे न केवल वजन घटाने के लिए एक आदर्श भोजन बनाता है, बल्कि हमारे शरीर को कई मायनों में स्वस्थ रखने के लिए काफी उपयोगी होता है।

चिकन एक अत्यंत ही स्वादिष्ट भोजन के रूप में हमारे खान पान में सम्मलित रहता आया है। शायद ही कोई ऐसा नॉन वेजिटेरियन हो जिसे चिकन खाना पसंद न हो। लेकिन आज मैं  इसके स्वाद के बारे में बात नहीं करूंगी, मैं बताउंगी चिकन  खाने से फायदे और नुकसान क्या क्या होते है।

अगर कोई आपसे पूछे कि, मुर्गा खाने से क्या होता है, आपको इस पोस्ट को पढ़ने के बाद तमाम जानकारियां मिल जाएँगी, जो आप उसको बता सकती है। 

आपने गौर किया होगा कि Diet विशेषज्ञ, चिकन को खाने में बार बार शामिल करने की राय देते हैं। क्या आप जानते हैं, ऐसा क्यों है? ऐसा इसलिए है क्योंकि चिकन एक ऐसा भोजन है जिसमें सामान्य रूप से अविश्वसनीय स्वास्थ्य लाभ होते हैं। हमारे शरीर के लिए चिकन में  ऐसे बहोत सारे फैक्टर्स मौजूद रहते हैं, जिनसे हमें जबरदस्त फायदे होते हैं।

आइये सबसे पहले देखते हैं, कि 100 ग्राम चिकन में हमें क्या क्या मिलता है। 

चिकन के हर 100 ग्राम  खाने से हमें मिलता है – Chicken Nutrition Facts Hindi Me

  • 195 किलोकैलोरी
  • 30 ग्राम प्रोटीन
  • 2.2 ग्राम संतृप्त वसा
  • 7.7 ग्राम वसा
  • 0 ग्राम कार्बोहाइड्रेट

Chicken Khane Ke Fayde – Chicken Khane Ke Fayde Hindi

Chicken Khane Ke Fayde

चिकन  खाने के लाभ: यह आसानी से पच जाता है

हम सब जानते हैं कि चिकन का मांस बहोत नरम होता है, और इसी वजह से चिकन को आसानी से है कोई पचा लेता है।  इसलिए जब किसी को पेट संधित बीमारी होती है, तो Dr. चिकन  खाने की सलाह देते हैं। चिकन पेट में एसिड के उत्पादन को उत्तेजित नहीं करता है, न ही गैस्ट्रिक पैदा करता है।

यानी, हमारे पेट और आंतों को भोजन पचाने के लिए जैसा स्वस्थ माहौल कि ज़रुरत होती है, चिकन बिलकुल वैसा ही माहौल बना के खाना हजम करने में सहायक होता है। इसलिए अगली बार जब कोई पूछे कि, चिकन खाने से क्या होता है? ये बताना न भूलें। 

चिकन यूरिक एसिड को कम करता है: Chicken Khane Ke Fayde

जब शरीर प्यूरीन को पचाता है, तो यह यूरिक एसिड नामक अपशिष्ट उत्पन्न करता है, जो शरीर में केंद्रित होने पर गुर्दे की पथरी या संयुक्त समस्याओं का कारण बन सकता है।

कई लोग जो रेड मीट या लाल मांस कहते है, उनके शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ती रहती है, जबकि चिकन के खाने से ऐसा नहीं होता। रेड मीट में प्यूरीन अधिक मात्रा में रहता है जो हमे पेट में जाकर एक खराब प्रोटीन बनाता है, जबकि चिकन में प्यूरीन की बहुत कम मात्रा होती है। ये एक और फायदा है चिकन खाने का।

चिकेन हार्ट अटैक कके खतरे को काम करता है: Chicken Khaney Sey  Aapka Dil Sahi Rahta Hai

होमोसिस्टीन नाम का रसायन जितना ज़्यादा किसी शरीर में होता है, उसे उतना ही हार्ट अटैक होने के चान्सेस ज़्यादा होते हैं। लेकिन चिकेन में पाया जाने वाला विटामिन B6 इस होमोसिस्टीन को काम करता है और चिकेन में मौजूद नियासिन कोलेस्ट्रोल लेवल को कम करने में सहायक होता है। मतलब, आप चिकन खाएंगे उतना ही हार्ट अटैक से दूर रहने की संभावना रहेगी।

ट्राइप्टोफहान शामिल है: Chicken benefits for health in hindi

ट्रिप्टोफान एक अमीनो एसिड है जो अन्य पदार्थों के गठन में मदद करता है जो शरीर अपने उचित कामकाज के लिए उपयोग करता है, यह हमारे शरीर के लिए आवश्यक है, लेकिन यह स्वाभाविक रूप से उत्पादित नहीं होता है, इसलिए इसे सिर्फ भोजन के माध्यम से प्राप्त किया जा सकता है और Chicken आपको ट्रिप्टोफान उपलब्ध करवाता है जो आपके शरीर की जरूरत है। चिकन  ट्रिप्टोफान की वजह से अवसादरोधी का काम करता है।

Chicken में वसा न के बराबर होती है : Chicken Khane Ke Fayde Hindi Mei

चिकेन में सिर्फ उच्च मात्रा में प्रोटीन रहता है, बल्कि इसमें वसा भी न के बराबर होती है। कारन चाहे वज़न काम करना हो या अपने दिल को किसी भी तरह के सम्भ्वाइट खतरे से बचाना, चिकन आपको ज़रूर अपने खाने में शामिल करना चाहिए। खासकर के चिकेन के ब्रेस्ट को लोग इसी वजह से ज़्यादा पसंद करते हैं। चिकन के ब्रेस्ट में 24 ग्राम प्रोटीन होता है।

यकीन जाने, अगर आप स्वस्थ रहना चाहते हैं, चिकेन खाने की तुलना में और शायद ही कोई खाद्य पदार्थ हो, जो इतने सारे गुण आपको पहुचाये।

चिकेन विटामिन और खनिजों से भरपूर होता है: Chicken Khane Ke Aur Fayde

चिकेन में विटामिन और खनिज जैसे बी 6, भरपूर फास्फोरस और सेलेनियम पाए जाते हैं, जिनके शरीर के लिए विभिन्न लाभ होते हैं; विटामिन बी 6 हमें अपनी ऊर्जा के स्तर को बढ़ाने में मदद करता है और चिकेन से मिलने वाला फास्फोरस हमारी हड्डियों और दांतों को स्वस्थ रखता है और हमारे यकृत और गुर्दे के ठीक से कार्य करते रहने में मदद करता है।

चिकेन में पाया जाने वाला सेलेनियम हमारे शरीर को एंटीऑक्सीडेंट पैदा करने में मदद करता है। ऐसे कई खाद्य पदार्थ नहीं हैं जिनमें बड़ी मात्रा में सेलेनियम होता है, इसलिए यह चिकन को अधिक वर्धित मूल्य देता है।

चिकेन Anemia से बचाता है:

चिकेन में मौजूद  विटामिन A, B, C, E और क हमारे शरीर में लाल रक्त कोशिकाएं की संख्या को बढ़ने में मदद करता है। और इससे हमें खून की कमी नहीं होती, जिससे हम एनीमिया से बचे रह सकते है।

चिकन खाने में उच्च जैविक मूल्य (High Biological Value) प्रदान करता है: चिकेन खाने के फायदे 

जब एक भोजन को उच्च जैविक मूल्य के साथ कहा जाता है तो इसका मतलब है कि इसमें शरीर की जरूरत वाले सभी आवश्यक अमीनो एसिड होते हैं, इसलिए हम जो कुछ भी निगलते हैं, उसका उपयोग हमारे शरीर के द्वारा एक  शानदार तरीके से किया जाएगा और उन्हें विभिन्न कार्यों के लिए इस्तेमाल किया जायेगा।

क्या अब भी आपको Chicken Khane Ke Fayde नहीं दिख रहे हैं? और हाँ, desi chicken khane ke fayde कहीं बहोत ज़्यादा होते हैं, इसका भी ख्याल रक्खें। chicken khane ke fayde in hindi

आँखों के लिए लिए  उत्तम : Chicken Khane Ke Fayde

चिकन में रेटिनॉल, अल्फा और बीटा कैरोटीन, लाइकोपीन और विटामिन ए के सभी डेरिवेटिव की मात्रा अधिक होती है, जो हमें पर्याप्त दृश्य स्वास्थ्य की अनुमति देने के लिए आवश्यक हैं।

त्वचा के लिए उपयोगी: Chicken Khane Ke Fayde

होंठों के फटने, जीभ में दाने या घाव होने या त्वचा के सूखते जाने से बहोत सारे लोग जूझते हैं, चिकेन में मौजूद राइबोफ्लेविन (विटामिन बी 2 या)  जो चिकन लिवर में पाया जाता है, इन समस्याओं को काफी कम करने में बहोत मादा करता है।

ऊतकों के पुनर्निर्माण के लिए बेहद उपयोगी: Benefits Of Eating Chicken

चिकेन वास्तव में, न सिर्फ ऊतकों, लेकिन कोशिकाओं, मांसपेशियों, हड्डियों, और अंगों बल्कि कोशिका उत्थान क्षतिग्रस्त कोशिकाओं की मरम्मत की प्राकृतिक प्रक्रिया को भी संदर्भित करता है।chicken khane ke fayde or nuksan

चिकेन में मौजूद प्रोटीन मांसपेशियों के ऊतकों को बनाने में काफी उपयोगी होता है। यही कारण है कि, डॉक्टर्स और डाइट स्पेशलिस्ट्स चिकन को खाने में शामिल करने पैर ज़ोर देते हैं।

चिकन इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है: Chicken Khane Ke Anignat Fayde 

चिकन में विटामिन ए की 843 अंतरराष्ट्रीय इकाइयां होती हैं। यह पोषक तत्व प्रतिरक्षा प्रणाली में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। विशेष रूप से, यह मैक्रोफेज, न्यूट्रोफिल और एनके कोशिकाओं के सामान्य कार्य को बनाए रखता है। बाद में संक्रमित कोशिकाओं को मार देते हैं। इसलिए, वे संक्रमण से लड़ने में मदद करते हैं। 

अजवाइन के फायदे और नुकसान

जब किसी के शरीर में प्रोटीन की मात्रा काम हो जाती है तो, किसी भी  तरह की इन्फ्लैमटॉरी  बीमारी या उपचार में उसे देर होती है, क्यूंकि शरीन में कम मात्रा में प्रोटीन मौलिक कोलेजन के संश्लेषण को रोकता है। चिकन में मौजूद ज़्यादा प्रोटीन यहाँ जादू की तरह काम करता है।

चिकन खाने के फायदे और वो भी इतने सारे देखने और जान्ने के बाद आईये अब जानते हैं, Chicken Khane Ke  Nuksan.

Chicken Khane Ke Nuksan  : चिकन खाने के क्या क्या नुकसान हो सकते हैं ?

Chicken Khane Ke Nuksan 

कैंसर का खतरा: मुर्गा खाने के फायदे और नुकसान में, ये सबसे बड़ा नुक्सान हो सकता है 

ज़्यादातर देखा गया है कि, लोग ग्रिल्ड चिकन खाना ज़्यादा पसंद करते हैं बजाय फ्राइड चिकन के। यहाँ ये जान लेना बेहद ज़रूरी है कि, ग्रिल्ड चिकन में पैराइडिनऔर एमिनो मिथाइल फेनिलिमिडाजो होते हैं जो कि प्रोस्टेट और ब्रेस्ट कैंसर के लिए खतरनाक होते हैं। देसी चिकन खाने के फायदे ज़्यादा हैं। इसलिए देसी चिकन ही खाएं। 

चिकन खाने से क्या नुकसान होता है?

गठिया रोग होने के खतरे: चिकन खाने के नुक्सान

चिकन में पाए जाने वाले Uric Acid  से गठिया रोग होने का डर रहता है।

प्रजनन से सम्बंधित समस्या: Chicken Khane Ke Nuksan Hindi Me

कुछ दुकानों में चिकन को काटने से पहले ऑक्सीटॉसिन injection लगाया जाता है, ऐसे इंजेक्शन लगे चिकन खाने से महिलाओं और पुरुषों दोनों में, प्रजनन सम्बंधित समस्याएं पैदा हो सकती हैं, जिससे संतान उत्पत्ति न होने के खतरे रहते हैं। 

अल्ज़ाइमर रोग का खतरा: चिकन खाने के नुक्सान 

कभी कभी चिकेन के ज़्यादा सेवन से अल्ज़ाइमर रोग होने का दर रहता है।

तंत्रिका तंत्र से जुड़ी बीमारियां: Chicken Khane Ke Nuksan In Hindi

जल्दी बढ़त के लिए चिकन को खिलाये जाने वाला आर्सेनिक हम मनुष्यों के लिए अत्यंत भयानक जह्रीं होता है। और ऐसे में नर्वस सिस्टम से जुड़ी समस्या के साथ साथ और बीमारियां भी हो सकती हैं।

FAQ

चिकन में नाना प्रकार के पोषक तत्व पाये जाते हैं जो शरीर को एनर्जी और पोषण प्रदान करते हैं। इसलिए कुछ डॉक्टर्स गर्वावास्था में चिकन खाने को मंजूरी देते हैं, वही कुछ डॉक्टर्स चिकन खाने से संक्रमण के डर की वजह से चिकन से परहेज करने की सलाह देते हैं.
ब्रायलर चिकन को पोल्ट्री फॉर्म्स में इंजेक्शन देके बड़ा किया जाता है। और इस कारण इन मुर्गियों में मौजूद बैक्टीरिया हमे गंभीर रूप से बीमार कर सकती हैं। बस, ये देशी चिकन से बहोत काम कीमत पैर मिलने की वजह से हमें इससे दूर ही रहना चाहिए।
हाँ और न, दोनों। चिकन खाने से वज़न नहीं बढ़ता, लेकिन अगर आप रोज़ बटर चिकन,चिकन बिरयानी, और ग्रिल्ड चिकन खायेंगे तो, ये जिस तरह से पकाए जाते हैं, वो सारे तत्व आपके वज़न को निश्चित तौर पे बाधा सकते हैं. आपने सुना ही होगा, "अति सर्वत्र वर्जयेत्".
अगर आप घर का बना और वो भी भुना हुआ चिकन  खा रहेहैं, तो आप हफ्ते में 2 से 3 बार खा सकते हैं।
अगर आप भुना हुआ चिकन रोज़ कहते हैं, तो आप सेहतमंद और स्वस्थ रहेंगे। वहीँ अगर आप रोज़ ग्रिल्ड चिकन खातें हैं, तो आपको कुछेक परेशानियां हो सकती है।
हृदय के लिए उपयोगी  – हमारा हृदय जो हमारे शरीर का मुख्य अंग है हमारे पुरे शरीर में रक्त प्रवाह करने के लिए जिम्मेदार है। । हृदय के स्वास्थ्य को स्वस्थ और तंदरुस्त रखने के लिए Protein की बहोत जरुरत होती है। चिकन में पाया जाने वाला उच्च मात्रा का Protein व Vitamin C हमारे शरीर के लिए बहोत अच्छा होता है।
जी हाँ, चिकन खाने से Uric Acid की मात्रा बढ़ती है।

तो दोस्तों ये थे Chicken Khane Ke Fayde Aur Nuksan. आशा करती हूँ, चिकन काने के क्या फायदे हैं और क्या नुक्सान हैं, ये जान्ने के बाद आप बेहतर स्थिति में होंगी ये तय करने के लिए कि, अब आपको क्या करना चाहिए।

अगर ये पोस्ट आपको च्छी लगी हो तो अपने दोस्तों के साथ ज़रूर शेयर करें, और अपना ख्याल रक्खें।

डिस्क्लेमर: मेरी इस वेब साइट में प्रकाशित किसी भी आर्टिकल से जानकारी का इस्तेमाल किसी भी हालात, विकार या किसी बीमारी के रोकथाम या इलाज में ना करें। किसी भी तरह की स्वास्थ्य समस्या के लिए एक विशेषज्ञ या किसी चिकत्सक की मदद अवश्य ले।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *