9 Best Beauty Tips For Pimples In Hindi

दोस्तों आज की ये पोस्ट Beauty Tips For Pimples In Hindi, एक ऐसी समस्या के ऊपर यही, जिससे कमोबेश हर इंसान भुगतता है।  पिम्पल्स यानी मुहांसों की सबसे बड़ी समस्या इसे न छुप पाना होता है, जो और भी मुश्किल होता है हम सभी के लिए।

आप इसे मेकअप से भी नहीं छुपा सकती और ये किसी ज़िद्दी बच्चे की तरह आपको परेशां करता रहता है। आज मैं  (Pimples hone ke karan in Hindi) मुंहासे होने के कारण के साथ ही कुछ Beauty Tips For Pimples In Hindi, भी दूँगी , ये पिंपल हटाने के घरेलू उपाय बहोत ही सहज और आसान है, इसलिए आप इन्हे बिना किसी मुश्किल के आजमा सकती / सकते  हैं।

desi nuskhe for pimples in hindi

Beauty Tips For Pimples In Hindi

मुँहासे को सही दवाओं और उपचारों के साथ सफलतापूर्वक इलाज किया जा सकता है। विशेषज्ञ या पेशेवर से परामर्श करना हमेशा अच्छा होता है, खासकर जब आपके मुँहासे ज़्यादा गंभीर हालत में हो।

दोस्तों, यह लेख इस बारे में है कि आपके मुँहासे का कारण क्या हो सकता है और विभिन्न तरीकों से आप उनसे छुटकारा पाने की कोशिश कर सकते हैं। लेकिन अगर  इन pimples remove tips in hindi से अगर आपको कोई लाभ न आता दिखे तो Dr की सलाह ले, हो सकता है कि, आपके मुहांसे किसी गंभीर स्टेज पे हों।

इससे पहले की हम how to remove pimples in hindi जाने, आइए पहले ये देखते हैं कि, पिंपल्स क्यों होते हैं और मुंहासे क्या है?

Beauty Tips For Pimples In Hindi

home treatment for pimples in hindi

Pimples solution in hindi

1.What is pimple in hindi – मुँहासे क्या है?

किशोरावस्था में हमारे रोमछिद्र जब बंद हो जाते है, तो इसका परिणाम पीपल्स यानी मुहासें होते हैं। मुँहासे जख्म भी पैदा कर सकते हैं, इसलिए इसे हलके में लेने की भूल कभी न करें।

कुछ लोगों की त्वचा के रोमछिद्र तेल, बैक्टीरिया और मृत त्वचा कोशिकाओं द्वारा बार- बार अवरुद्ध हो जाते हैं, जो   पिंपल्स में बदल जाते हैं। इन्हें ‘मुँहासे’ कहा जा सकता है।

लोग अक्सर चेहरे पर पिंपल्स के साथ मुंहासे को भ्रमित करते हैं। हालांकि, मुंहासे शरीर पर कहीं भी विकसित हो सकते हैं। हालाँकि ये किसी भी उम्र में हो सकता है, मगर किशोरावस्था में सबसे ज़्यादा होता है।

गंभीर मुंहासे जख्म पैदा कर सकते हैं। इनमें नोड्यूल (त्वचा की सतह के नीचे ठोस धक्कों), पैपुल्स (छोटे, उठाए गए लाल धक्कों), पुस्टल (लाल धक्कों पर मवाद से भरे सुझाव), और अल्सर (त्वचा के नीचे पाए जाने वाले बड़े मवाद से भरे धक्कों) शामिल हैं।

2.मुँहासे होने का कारण – Causes Of Pimple In Hindi

किसी व्यक्ति के मुंहासे विकसित होने का कोई एक कारण नहीं होता है। मुहांसे किसी भी तरह के हार्मोनल परिवर्तन, जीन, गर्भनिरोधक गोलियों जैसी कुछ दवाओं, या परिष्कृत शर्करा और कार्बोहाइड्रेट में उच्च आहार, ये सब मुहांसों को जन्म देने में सहयोग गकरते है।

pimple care tips in hindi

पिंपल हटाने के घरेलू नुस्खे

  • A. हार्मोनल परिवर्तन
    हार्मोनल परिवर्तन एक ऑयली स्किन का निर्माण करता है , जिससे रोमछिद्र भर जाते हैं, और मुहांसे निकल आते हैं।
  • B. तनाव
    अध्ययनों से पता चलता है कि तनाव मुँहासे में योगदान देता है। शोध से यह भी पता चलता है कि विश्राम चिकित्सा के साथ मुँहासे की गंभीरता कम हो जाती है।
  • C. आहार
    कुछ अध्ययनों के अनुसार आप जो खाते हैं, उससे आपकी त्वचा की सेहत पर असर पड़ सकता है। कार्बोहाइड्रेट में उच्च आहार मुँहासे पैदा कर सकता है। हालांकि अमेरिकन एकेडमी ऑफ डर्मेटोलॉजी का कहना है कि आपकी डाइट और मुंहासे के बीच कोई सीधा रिश्ता नहीं है।
  • D. जीन
    आपके जीन आपकी त्वचा के प्रकार ( Skin Type) का निर्धारण करने में एक महत्वपूर्ण कारक हैं। यदि आपके परिवार के सदस्यों के अधिकांश तेल त्वचा है, संभावना है कि आप की त्वचा भी तैलीय होगी । तैलीय त्वचा रोमछिद्रों को रोकने में अहम् भूमिका निभाते हैं। इससे मुंहासे हो सकते हैं। इसलिए जीन मुँहासे की गंभीरता और प्रकार में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।
  • E. जलवायु
    आर्द्र जलवायु शरीर में तेल उत्पादन को बढ़ा सकती है। गर्म मौसम आपकी त्वचा को निर्जलित कर सकता है। इससे शरीर में सीबम का उत्पादन अधिक होता है।

3.मुँहासे के लक्षण – Symptoms Of Pimples In Hindi

आपके शरीर के कुछ हिस्सों पर सफेद, लाल और काले धक्कों या मवाद से भरे पिंपल्स आमतौर पर मुँहासे का संकेत होते हैं। मुंहासे आपके शरीर पर कहीं भी हो सकते हैं।

 मुंहासे के प्रकार – Types Of Pimples In Hindi

  • A. पेप्युल्स
    पेप्युल्स त्वचा पर एक लाल/गुलाबी रंग का उभर सा होता  है । यह आमतौर पर एक सेंटीमीटर गोल से भी कम होता है। एक पेप्युल्स में मवाद से भरा केंद्र नहीं होता है।
  • B. पुस्टूल
    पुस्टूल सफेद या पीले मवाद से भरा होता है और इसका रंग गुलाबी या लाल होता है।
  • C. नोड्यूल्स
    नोड्यूल्स  एक बड़ा ही दर्दनाक, सूजन वाली गांठ की तरह होता है। नोड्यूल्स त्वचा के भीतर गहरे रूप में बनते हैं। वे त्वचा की सतह के नीचे टूटे ऊतकों का परिणाम हैं। इनका कोई केंद्र नहीं होता है और ये बड़े पेप्युल्स की तरह दिखते हैं।
  • D. अल्सर
    ये मुँहासे का सबसे गंभीर रूप है। यह मवाद से भरा त्वचा पर एक बड़ी सीस गांठ होता है। यह जख्म पैदा कर सकता है क्योंकि यह त्वचा की परतों में गहरा स्थित है।
  • E. व्हाइटहेड्स
    एक सफेद डॉट या एक “बंद comedon” त्वचा पर एक छोटी सी सफ़ेद हंसी सा होता है । इस प्रकार के मुंहासे आमतौर पर जख्म का कारण नहीं बनते हैं।
  • F. ब्लैकहेड्स
    ये एक दाना या एक “खुला comedon” की तरह हमारे त्वचा पर एक छोटी सी काली फुंसी होती है। ब्लैकहेड्स फंसी गंदगी का नतीजा नहीं हैं । हमारी त्वचा पैर oxygen का असर इन्हे काला कर देता है।

4. मुँहासे से छुटकारा पाएं कैसे? Beauty Tips For Pimples In Hindi

gharelu nuskhe for pimples in hindi

Treatment For Pimples In Hindi

चिकित्सा  प्रक्रियाओं में डॉक्टर्स, लेजर थेरेपी,  माइक्रोडर्माब्राशन, आइसोट्रेटिनोइन, एंटीबायोटिक्स, स्टेरॉयड इंजेक्शन, ओवर-द-काउंटर दवाएं, बेंजोइल पेरोक्साइड,और  कॉर्टिसोन इंजेक्शन का उपयोग करते हैं।

आपके लिए ये जान लेना बेहद ज़रूरी है कि, इनके कुछ गंभीर दुष्परिणाम हो सकते है। इसलिए सोच समझकर ही कोई कदम उठायें

ये सारे तरीके मुँहासे से समाधान पाके लिए  लिए स्थायी नहीं हैं। वे भविष्य में मुहांसों को फैलने से नहीं रोकते हैं । यदि आपकी त्वचा ब्रेकआउट से ग्रस्त है तो मुँहासे के लिए दैनिक उपचार की सिफारिश की जाती है।

तो फिर  how to remove pimples from oily skin at home in hindi ya how to remove pimples from face in hindi?

आइये देखते हैं कुछ best tips for removing pimples in hindi. face pe pimples ka ilaj in hindi बहोत ही आसानी से आपके मुहांसों को दूर करने में आपकी मदद करेंगे।

किसी भी तरह के त्वचा में, चेहरे से कील मुंहासे हटाने के घरेलू उपाय प्राकृतिक और नैसर्गिक है, इसलिए इनमे किसी भी तरह का जोखिम नहीं है, और आप बिना किसी डर के इन सारे pimples hatane ka tarika in hindi को आज़मा सकते हैं, आपको रिजल्ट ज़रूर मिलेगा।

Pimples Treatment At home In Hindi – मुंहासे के इलाज के लिए घरेलू उपचार – Beauty Tips For Pimples In Hindi

1. चाय के पेड़ का तेल – Tea Tree Oil Piples Hatata Hai

चाय के पेड़ का तेल विरोधी मुँहासे उत्पादों में एक व्यापक रूप से इस्तेमाल किया घटक है। इसमें anti inflammatory और रोगाणुरोधी गुण होते हैं। यह तेजी से बढ़ने वाले मुँहासे के घावों को कम करने में मदद करता है।

अध्ययनों से ये साबित हुआ है कि चाय के पेड़ के तेल काफी हल्के से मध्यम मुँहासे में सुधार कर सकते हैं।

ऐसे आज़माएं:

आधे चम्मच  Apvera Ggel में दो से तीन बूंद टी-ट्री ऑयल को मिलाएं और इसे चेहरे पर लगा लें। जब ये पेस्ट सूख जाए तो नार्मल पानी से धो लें।

2. शहद और दालचीनी – Beauty Tips For Pimples In Hindi

pimples on face removal tips in hindi

Beauty tips for face pimples hindi me

शहद का उपयोग वर्षों से चिकित्सीय उपाय के रूप में किया जाता रहा है। इसका उपयोग कई प्रकार के त्वचा विकारों के इलाज के लिए किया जाता है, सूखी त्वचा से लेकर मुंहासे की त्वचा तक। शहद में जीवाणुरोधी गुण होते हैं। यह मुँहासे को कम करने में मदद कर सकता है और त्वचा को शांत करने में मदद कर सकता है।

दालचीनी में रोगाणुरोधी गुण होते हैं जो त्वचा पर बैक्टीरिया और भड़काऊ घावों को कम करने में मदद कर सकते हैं।

ऐसे आज़माएं:

शहद और दालचीनी में anti inflammatory गुण होते हैं जो बैक्टीरिया से लड़ने और सूजन को कम करने में मदद करते हैं। शहद और दालचीनी का face mask बाकर इसे अपने चेहरे पे लगाएं।

शहद के 2 बड़े चम्मच और करीब दो चम्मच पीसी हुई दालचीनी लेकर उसका पेस्ट बना लें।  ध्यान रखें कि, पेस्ट गाढ़ा हो। मुहांसे वाले हिस्से में लगाकर आधे घंटे तक छोड़ दें, फिर ठन्डे पानी से धो ले। असर जल्दी दिखेगा।

3. लहसुन for Homemade face pack for pimples in hindi

how to remove pimples naturally and permanently in hindi

Gharelu nuskhe in hindi for face pimples

आपके सवाल पिम्पल कैसे हटाएं का जवाब लहसन बखूबी दे सकता है।

लहसन में मौजूद एलिसिन, एंटीबैक्टीरियल की तरह अपना काम करता है। इससे त्वचा बैक्टीरिया  मुक्त रहती है, और साथ ही इन्हें दुबारा पनपने से भी रोका जा  सकता है।

लहसन में, एंटी-इंफ्लेमेटरी , एंटीऑक्सीडेंट और एंटीमाइक्रोबियल गुण भी होते हैं। ये सारे गुण  मुहांसों को कम करने में मददगार होते हैं।

ऐसे आज़माएं:

लहसन को पीस के उसमें पानी  की  कुछ  बूंदे, और थोड़ा सा  शहद मिलके पेस्ट बना लें । इस पेस्ट को चेहरे पे लगाएं , जब ये सूख जाए तो धो लें ।

3. हल्दी face pack for pimples in hindi

how to remove pimples in hindi for man

Gharelu upchar for pimples in hindi

अपने भोजन के लिए स्वाद जोड़ने के अलावा, हल्दी पारंपरिक रूप से मुँहासे के इलाज के लिए इस्तेमाल किया गया है । यह anti inflammatory, एंटीमाइक्रोबियल और एंटीऑक्सीडेंट गुणों को प्रदर्शित करता है। यह सूजन और बैक्टीरिया को कम करने में मदद कर सकता है।

ऐसे आज़माएं:

आधा बड़ा चम्मच हल्दी पाउडर लें। इसमें गर्म पानी और शहद डालें। पेस्ट बनाने के लिए अच्छी तरह मिलाएं। इसे प्रभावित क्षेत्र में लगाएं और 15-20 मिनट बाद धीरे-धीरे धो लें।

4. मुल्तानी मिट्टी – Use of multani mitti for pimples in hindi

आपकेसवाल how to remove pimples at home in hindi का का एक और जवाब है ये। मुंहासे हटाने के घरेलू नुस्खे में मुलताली मिटटी का उपयोग बहोत ही फायदेमंद होता है। मुल्तानी मिट्टी, तैलीय त्वचा से तेल को  पूरी तरह से सोंख लेती है और त्वचा की गन्दगी को साफ़ करती है।

मुल्तानी मिट्टी त्वचा में बनने वाले इस प्राकृतिक तेल को सोखकर चेहरे पर जमी गंदगी को साफ कर सकती है। इसमें भी एंटी-माइक्रोबियल गुण पाए जाते है, जो पिम्पल्स के बैक्टीरिया को ख़त्म करने में सहायक होते है।

ऐसे आज़माएं:

तीन चम्मच मुल्तानी मिट्टी में  थोड़ा सा गुलाब जल डालें , इसमें एक चम्मच शहद मिला लें। अच्छे से इसका पेस्ट बनायें, और मुहांसों से प्रभावित जगह पे लगाएं। थोड़ी देर बाद इसे धो लें।

5. नीम का उपयोग पिंपल हटाने के घरेलू नुस्खे में

नीम pimples home treatment in hindi में एक और जाना पहचाना नाम है। इसकी पत्तियों में एंटीबैक्टीरियल और एंटीइंफ्लाममटोरी गुण होता है, जो, मुहांसो को काम करने के आम में आता है।

इस्तेमाल कैसे करें:
नीम की पत्तियों को पीस लें, इसेmuhanse वाली जगह पे लगाएं, दूसरा तरीका नीम के पत्तों को पानी में  उबाल लें , जब पानी ठंडा हो जाए तो चेहरा धो लें।

6. अरंडी का तेल से करें Pimples ka ilaj in hindi

अरंडी का तेल यानी Caster Oil , हमारी त्वचा को साफ़ और स्वस्थ रखने में मदद करता है। इसका एंटी माइक्रोबियल और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण मुहांसों से लड़ता है, और मुहांसों को फैलने से रोकता है। pimples on face treatment at home in hindi में ये काफी घरों में इस्तेमाल किया जाता है।

ऐसे आज़माएं:

थोड़ेs से अरंडी के तेल में एलोवेरा gel मिलाके लगाएं, काफी आराम होगा। सूख जाने पे, धो लें।
आवश्यकतानुसार अरंडी का तेल और एलोवेरा जेल मिलाकर चेहरे पर लगाएं।
मिश्रण के सूख जाने पर त्वचा को गुनगुने पानी से धो लें।

7. बेकिंग सोडा फॉर Homemade beauty tips for pimples in hindi

face pimples remove tips in hindi

How to remove pimples from face at home in hindi

हालांकि इसे पारंपरिक रूप से इस्तेमाल किया जाता है और इसका कोई वैज्ञानिक सबूत नहीं है कि बेकिंग सोडा मुँहासे के लिए काम करता है । हालांकि, कुछ लोग अपने मुँहासे वल्गरिस के इलाज के लिए मिश्रण में एक घटक के रूप में इसका उपयोग करते हैं।

ऐसे आज़माएं:

बेकिंग सोडा को नींबू, शहद, एप्पल साइडर सिरका, दही या सिर्फ पानी के साथ मिला के पेस्ट बना लें । मुहांसे से प्रभावित जगहों पे लगाएं और तकरीबन 20 मिनट बाद धो लें।

8. सेंधा नमक इस्तेमाल करें as Gharelu upay for pimples in hindi

face pack for oily skin and pimples in hindi

Home Remedies For Pimples in Hindi

how to get rid of pimples in hindi पूछने वालों के लिए एक चमत्कारी जवाब। जी हाँ, सेंधा नमक मुहांसे हटाने के घरेलु उपायों में से एक है।

सेंधा नमक मृत त्वचा कोशिकाओं को हटाने का काम करता है, और साथ ही हार्मोनल डिस्बैलेंस को भी रोकता है। इसके सेवन से, त्वचा मुलायम और साफ़ रहती है।

इस्तेमाल कैसे करें:

पानी में सेंधा नमक मिलकर टिश्यू  पेपर या रुई से  प्रभावित जगह पे लगाएं। 20-25 मिनटtak लगा रहने दें, हलके हाथों से पोंछ  लें।

9. नारियल का तेल से Pimples kaise hataye in hindi

नारियल तेल का इस्तेमाल चेहरे के दाग धब्बों को  हटाने के  लिए किया जाता है। मगर इसमें मौजूद vitamin E जीवाणुओं को फैलने से  रोकता है, और इसलिए नारियल  तेल का भी एक जवाब है इस सवाल का की, how to remove pimples in hindi at home?

ऐसे आज़माएं:

पिंपल हटाने के घरेलू नुस्खे के रूप नारियल तेल की कुछ बूंदों में थोड़ा सा शहद मिलाएं। इस मिश्रण को अच्छे से  मिलाएं, और मुहांसे वाली जगह  पे लगाएं। सूख जाने पे धो लें। चंद दिनों में  ही असर दिखेगा।

मुँहासे को कैसे रोका जा सकता है – मुहांसे से छुटकारा कैसे पाएं?

ज्यादातर समय लोग स्किन केयर के बेसिक टिप्स फॉलो करना भूल जाते हैं। यह हमेशा जरूरी है कि आप अपनी त्वचा को साफ और हवा के आवागमन के लिए  लेने एक बेसिक स्किनकेयर रूटीन का पालन करें।

Best Beauty Tips For Pimples In Hindi

  • अपनी त्वचा से गंदगी और प्रदूषण को दूर करने के लिए दिन में कम से कम दो बार अपना चेहरा धोएं। ओवरलैपिंग न करें। अत्यधिक धोने से आपकी त्वचा आवश्यक तेलों से वंचित हो सकती है। इससे सीबम के उत्पादन में योगदान मिल सकता है।
  • अपनी त्वचा को मॉइस्चराइज करने के लिए खूब पानी पीएं और इसे अतिरिक्त सीबम पैदा करने से रोकें। बहुत अधिक सीबम भरा छिद्रों के लिए नेतृत्व कर सकते हैं।
  • दिन में घर से निकलते समय हर बार सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें। डायरेक्ट सन एक्सपोजर आपकी त्वचा को सुखा सकता है। इसके परिणामस्वरूप अधिक सीबम उत्पादन हो सकता है।
  • तेल आधारित मेकअप उत्पादों से बचें। वे रोम छिद्रों को बंद कर सकते हैं। मुँहासे-प्रवण त्वचा के लिए पानी आधारित मेकअप उत्पादों की सिफारिश की जाती है।
  • सोने से पहले अपना मेकअप हटा दें। ऑयल बेस्ड मेकअप रिमूवर न खरीदें।
  • नियमित रूप से त्वच की सफाई करें। एक स्किनकेयर रेजिमेन का पालन करें जो आपकी त्वचा को अपने पीएच स्तर को बनाए रखने और क्लोजिंग से बचने में मदद करता है।
  • रोजाना अपनी त्वचा को एक्सफोलिएट करने से बचें। बहुत ज्यादा एक्सफोलिएटिंग त्वचा में सीबम के उत्पादन को प्रोत्साहित कर सकती है। जब भी आप चाहें कोमल स्क्रब का इस्तेमाल करें।
  • एक स्वस्थ आहार का पालन करें। शोध से पता चलता है कि कम कार्ब आहार मुँहासे वल्गार को बेहतर बनाने में मदद कर सकते हैं।
  • बाहर जाने से पहले सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें। डायरेक्ट एक्सपोजर त्वचा और शरीर को निर्जलित कर सकता है, जिससे सीबम का अधिक उत्पादन होता है। भरा हुआ छिद्रों से बचने के लिए एक मुँहासे सनस्क्रीन चुनें।
  • अपने पिंपल्स को न फोड़ें। पिंपल्स पॉपिंग त्वचा की बाधाओं को तोड़ सकता है और अन्य छिद्रों को संक्रमित कर सकता है। इससे मुंहासे ब्रेकआउट हो सकते हैं।

आशा करती हूँ आप सबको pimple kaise hataye के ऊपर लिखी मेरी ये पोस्ट 9 Best Beauty Tips For Pimples In Hindi ज़रूर पसंद आयी होगी। अगर पसंद आयी है तो, इसे अपने सोशल मीडिया अकाउंट पे शेयर करना न भूलें और दुबारा फिर ज़रूर आएं।

आपके वक़्त का धन्यवाद् ! 

डिस्क्लेमर: मेरी इस वेब साइट में प्रकाशित किसी भी आर्टिकल से जानकारी का इस्तेमाल किसी भी हालात, विकार या किसी बीमारी के रोकथाम या इलाज में ना करें। किसी भी तरह की स्वास्थ्य समस्या के लिए एक विशेषज्ञ या किसी चिकत्सक की मदद अवश्य ले।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *